20/07/2024 12:34 am

अर्की आज तक 3
Search
Close this search box.

गजराज के बाद अब छह टांगो वाली गौमाता पहुंची कुनिहार में।

[adsforwp id="60"]

अर्की आजतक
अक्षरेश शर्मा
पंजाब लुधियाना से मंगलवार को कुनिहार गजराज पहुंचे थे,तो आज महाराष्ट्र राज्य से एक परिवार छह टांगो व दो जीभ वाली गौमाता को लेकर पहुंचे है।हिन्दू धर्म मे गाय को माता व गजराज को गणेश के रूप में पूजा जाता है।सनातन धर्म मे वैसे भी गऊ माता व गजराज के लिए लोगो मे अटूट आस्था होती ही है व ऐसे प्रवासी लोग धार्मिक आस्था के नाम पर पापी पेट के लिये इन बेजुबान पशुओ के धार्मिक प्रचार से रोजी रोटी चला रहे हैं।गजराज को जंहा आज भी भी कुनिहार बाज़ार में महात्मा लोग घुमा घुमा कर गणपति के नाम पर मांगते दिखे,तो वन्ही
महाराष्ट्र राज्य से संतोष गोस्वामी परिवार के अन्य सदस्यों सहित छह पैर व दो जीभ वाली नंदिनी गौमाता को एक भगवा रंग में रंगी गाड़ी में बाज़ार में चढ़ावा व चंदा मांगते देखे गए। गऊ माता के प्रति अटूट श्रद्धा के कारण दिल खोल कर चढ़ावा भी दे रहे हैं।
महाराष्ट्र से वृंदावन मथुरा होते हुए यह परिवार चंडीगढ़ होते हुए हिमाचल पहुंचा है।आज कुनिहार बाज़ार में हिन्दू आस्था के तहत गौमाता को घुमाया गया।
संतोष गोस्वामी के अनुसार ऐसी गऊ माता के दर्शन से मनुष्य के कष्ट दूर होते है व मनोकामना पूरी होती है। बातचीत में संतोष गोस्वामी ने बताया,कि वे बाबा बालक नाथ,चिन्तपूर्णी सहित जिला कांगड़ा के मंदिरों का भम्रण करेंगे।

Leave a Reply