19/07/2024 1:37 am

अर्की आज तक 3
Search
Close this search box.

लम्बे विवाद के बाद शुरू हुआ प्लांट माल भराई के लिये कम्पनी पहुंचे ट्रक

[adsforwp id="60"]

दाड़लाघाट अर्की आजतक (ब्यूरो)

जिला सोलन के दाड़लाघाट में अदाणी समूह और अंबुजा सीमेंट लिमिटेड के मध्य कई दिनों के लंबे विवाद के बाद अंततः ट्रक ओपेरटर्स व अदाणी समूह के बीच एमओयू साइन हो ही गया।जिसके बाद सीमेंट कंपनी प्रबंधन व ट्रक ऑपरेटर्स ‌सोसाइटीज के बीच 68 दिनों के बाद किराये पर सहमति बनने पर दाड़लाघाट सीमेंट प्लांट खुल गया।ओपेरटर्स के ट्रक ऑनलाइन डिमांड के माध्यम से माल भराई के लिए कंपनी परिसर में प्रवेश हो गए।इसके साथ ही दाड़लाघाट के ट्रांसपोर्टर्स ने मंगलवार को अंबुजा सीमेंट परिसर के साथ स्थित मंढोड़ देवता के मंदिर में अदाणी समूह के अंबुजा सीमेंट में सीमेंट उत्पादन प्रारंभ व पुनः ढुलाई कार्य शुरू होने पर अपने इष्ट देव के चरणों में पूजा अर्चना की।इससे पहले दाड़लाघाट की आठ सभाओं के ट्रक ओपेरटर्स ने अपनी अपनी सभाओं के साथ बैठक की।बैठक में शिमला सचिवालय में हुई बैठक की जानकारी दी।जिला सोलन ट्रांसपोर्टर ट्रक ऑपरेटर कोऑपरेटिव सोसाइटी दाड़लाघाट (एसडीटीओ) के प्रधान जयदेव कौंडल,अंबुजा दाड़ला कश्लोग मांगू परिवहन सहकारी सभा (एडीकेएम) के पूर्व प्रधान बालक राम शर्मा,बाघल विकास परिषद के प्रधान एवं माइनिंग एरियाज लैंड लूजर सोसायटी ग्याना के संस्थापक परसराम पिंकू व दी जिला सोलन भूतपूर्व सैनिक परिवहन को-ऑपरेटिव सोसाइटी दाड़लाघाट के प्रधान रोशन ठाकुर ने कहा कि दाड़लाघाट के ट्रक ओपेरटर्स के प्रतिनिधियों व सीमेंट कंपनी प्रबंधन के बीच किराये की नई दरों पर एमओयू साइन किया गया।बाघल लैंडलूजर सभा के पूर्व प्रधान
राम कृष्ण शर्मा ने कहा कि दाड़लाघाट में प्रदेश सरकार द्वारा घोषित माल भाड़े के बारे में आम सभा में विस्तृत चर्चा की गई।समस्त सभाओं के सदस्यों ने इसमें भाग लिया।उन्होंने कहा कि अंबुजा उद्योग परिसर में अंबुजा कंपनी प्रबंधन व आठ सभाओं के सदस्यों की बैठक कंपनी के साथ हुई।बैठक में एमओयू तैयार होने के बाद कोर कमेटी के लोगों ने आम सभा में लोगों के समक्ष एमओयू की शर्तों को रखा।इस दौरान लोगों से उसका अनुमोदन करने का आग्रह किया।जिसे सहर्ष तमाम लोगों ने ध्वनि मत से पास किया व कोर कमेटी के फैसले पर मोहर लगाई।उन्होंने कहा कि इसके उपरांत कोर कमेटी के सदस्य प्रदेश सरकार के पास एमओयू पर हस्ताक्षर करवाने के लिए शिमला रवाना हुए।


गौरतलब है कि अंबुजा सीमेंट कंपनी प्रबंधन एक अंक में माल भाड़ा किराया देने की बात कर रहा था जबकि दाड़लाघाट के ट्रक ऑपरेटर्स की मांग 13 रुपए 42 पैसे प्रति टन प्रति किलोमीटर की मांग कर रहे थे जिसके बाद सरकार की मध्यस्ता में शिमला में आयोजित कई बैठके बेनतीजा रही और आखिरकार 20 फरवरी को सीएम सुखविंदर सिंह सुक्खू की अध्यक्षता में आयोजित बैठक में नया माल ढुलाई भाड़ा दर सिंगल एक्सल ट्रकों के लिए 10.30 रूपए प्रति टन प्रति किमी जबकि मल्टी एक्सल के लिए नया दर 9.30 रुपये प्रति टन प्रति किलोमीटर तय की गई है।वहीं नई दरें निर्धारित होने के साथ ही सीमेंट प्लांट कंपनी प्रबंधन व ट्रक ऑपरेटर्स के बीच चला विवाद थम गया।आज से सीमेंट प्लांट खुलने के बाद ट्रक ओपेरट्स के ट्रक गाड़ी लोड करने के लिए कंपनी परिसर में प्रवेश कर गए।

Leave a Reply