17/06/2024 3:20 pm

अर्की आज तक 3
Search
Close this search box.

अम्बुजा सीमेंट कम्पनी चौथे दिन भी बंद रहने से थमे रहे ट्रकों के पहिये ।

[adsforwp id="60"]

दाड़लाघाट 18 दिसम्बर अर्की आज तक (ब्यूरो): अदानी समूह द्वारा कंपनी में तालाबंदी किए हुए रविवार को चार दिन हो गए है।इसके अलावा अंबुजा सीमेंट्स लिमिटेड एसीएल दाड़लाघाट द्वारा अनिश्चित काल तक कपंनी को बंद किए जाने से रविवार को दाड़लाघाट में चौथे दिन सन्नाटा पसरा रहा।इसके बावजूद अदानी समूह के अंबुजा सीमेंट्स लिमिटेड की ओर से उत्पादन बंद करने की स्थिति में सुधार देखने को नही मिला रहा।इससे ट्रक ऑपरेटरों व कंपनी प्रबंधन के बीच टकराव बढ़ता जा रहा है।जिससे माहौल तनावपूर्ण हो जाने की संभावना है।फिलहाल प्रशासन ने इस माहौल से पहले ही अंबुजा प्लांट में सुरक्षा की दृष्टि से पुलिस की एक टुकड़ी को प्लांट परिसर के भीतर व अंबुजा गेट के मुख्य द्वार पर तैनात कर दिया है।हांलाकि अभी तक ऐसी कोई भी अप्रिय घटना नही हुई है,उससे पहले प्रशासन ने सुरक्षा व्यवस्था सुदृढ़ कर दी है।वही आला अधिकारी समय समय पर स्वयं मोके पर हालात का जायजा ले रहे है।साथ ही प्लांट के अधिकारी भी नजर बनाए हुए है।अगर कंपनी परिसर पर नजर डाली जाए तो अंबुजा कंपनी के अंदर ओर बाहर भी किसी तरह की कोई गतिविधियां नही हुई।प्लांट में सुरक्षा कर्मचारी व जरूरी सेवाओं के कर्मचारियों को अलावा किसी भी तरह से किसी व्यक्ति को नही देखा गया।प्लांट के भीतर,बाहर व ट्रक यार्ड बटेड,अंबुजा मैन गेट के मुख्य गेट के सामने दाएं ओर की ओर दुकानें भी कुछ एक ही खुली रही,कुछ एक दुकानों के अलावा बाहरी इलाके के व्यवसायी की दुकान बंद करने की वजह कपंनी के बंद होने का हवाला देते हुए अपने घर की ओर पलायन करने की बात करते हुए नजर आए।इसके अलावा अंबुजा गेट के मुख्य द्वार पर इक्का दुक्का ही गाड़ी स्थानीय लोगों की चलती हुई देखने को मिली।वही ट्रक यार्ड व अंबुजा का मुख्य द्वार बिल्कुल सुनसान रहा।रविवार होने की वजह से दाड़लाघाट बाजार भी सुनसान दिखा।लोगों में चर्चा का विषय रहा कि अगर यही हालात रहे तो आने वाले समय मे परिणाम गम्भीर होते नजर आएंगे।जिससे माहौल भी तनावपूर्ण बनता नजर जा रहा है।बुधवार देर शाम से प्लांट में उत्पादन बंद कर दिया है।फिलहाल लोगों में गुस्सा है कि इस तरह से प्लांट को बंद करना ठीक नही है क्योंकि क्षेत्र के लोगों का रोजगार प्लांट से जुड़ा है जिससे प्लांट के बन्द होने से लोग प्रभावित होते नजर आ रहे है।

Leave a Reply