26/05/2024 10:59 pm

अर्की आज तक 3
Search
Close this search box.

ट्रक ऑपरेटर्स ने किया ऐलान जल्द होगी महापंचायत

[adsforwp id="60"]

अर्की आजतक (ब्यूरो)

दाड़लाघाट में ट्रांसपोर्टर्स ने एलान किया कि जल्द ही महापंचायत का आयोजन होगा।गत 22 दिनों से चला आ रहा अंबुजा सीमेंट तथा ट्रक ऑपरेटर्स का गतिरोध बढ़ता ही जा रहा है।बुधवार को सैकड़ों की संख्या में ट्रक ऑपरेटर्स चालक परिचालक दाड़लाघाट में एकत्रित हुए और अदानी ग्रुप के विरुद्ध जमकर रोष प्रकट किया।आंदोलनकारियों का जमावड़ा इतना बड़ा था कि रोड़ को क्लियर करने के लिए पुलिस को कई बार काफी मशक्कत करनी पड़ी।ट्रांसपोर्टर्स एक विशाल आक्रोश रैली के रूप में अंबुजा गेट से चलकर दाड़लाघाट बस स्टैंड पर रुके और तत्पश्चात अदानी ग्रुप के विरुद्ध जोरदार नारेबाजी करते हुए दाड़ला स्यार तक अदानी ग्रुप गो बैक ये अडानी सदानी नहीं चलेंगे इत्यादि नारे लगाते हुए वापिस अंबुजा चौक पर पहुंचे।अंबुजा चौक पर ट्रांसपोर्टर्स ने ऐलान किया कि शीघ्र ही दाड़लाघाट में ट्रांसपोर्टर्स महापंचायत का आयोजन किया जा रहा है इसकी रूपरेखा बुधवार शाम तक तैयार कर दी जाएगी,इस महापंचायत में ट्रांसपोर्टर्स, चालक,परिचालक,मैकेनिक ऑटोमोबाइल और सभी अंबुजा सीमेंट कंपनी के बंद होने के कारण प्रभावित व्यवसायी तथा उनके परिवार के सभी सदस्य भाग लेंगे।जिसमें संभवतः बरमाना एसीसी सीमेंट कंपनी के ट्रांसपोर्टर्स भी शिरकत करेंगे।ट्रांसपोर्टर रमेश कुमार ने कहा की सत्य और धर्म की हमेशा विजय होती है फिर देवभूमि से संबंध रखने वाले ट्रांसपोर्टर्स कैसे परास्त हो सकते हैं।दाड़लाघाट के पंचायत उप प्रधान हेमराज ठाकुर ने रामायण तथा अन्य अध्यात्मिक कथानकों के माध्यम से ट्रांसपोर्टर्स में नया जोश भरा।उन्होंने ट्रांसपोर्टर्स से कहा कि आपको अपनी शक्ति तथा ऊर्जा नहीं भुलानी है।उन्होंने बिना किसी का नाम लिए राजनेताओं को भी आड़े हाथों लिया और कहा कि अभी तक कोई भी राजनेता,जो चुनाव के समय समाज सेवा करने की दुहाई देते थे आज वे नेता कहां छुप कर बैठे हैं।उन्होंने यह भी स्पष्ट रूप से कहा कि क्या चुनाव जीतकर ही लोगों की सेवा की जा सकती है।इसी प्रकार अन्य वक्ताओं ने भी ट्रांसपोर्टर्स में नए जोश और नई ऊर्जा का संचार किया।
बाघल लैण्डलूजर के पूर्व प्रधान रामकृष्ण शर्मा ने कहा कि आज अम्बुजा प्लांट बन्द हुए 22 दिन हो गए है,परंतु ट्रांसपोर्टर्स के चेहरों पर कोई भी शिकन नही है।उन्होंने कहा कि हमारे इस आंदोलन में पूरे हिमाचल के ट्रांसपोर्टर समर्थन में है,वो चाहे बरमाणा हो नालागढ़ हो या सिरमौर हो सभी हमारा साथ दे रहे है।उन्होंने कहा कि कोई भी हमारे खिलाफ गाड़िया लोड़ करवाकर यहां नही आ रहे है।शर्मा ने कहा कि प्रदेश सरकार को इसमे हस्तक्षेप करना होगा यह नही की ये अदाणी ओर ट्रांसपोर्टर का मसला है इसे सरकार द्वारा सुलझाना होगा।उन्होने अगली रणनीति के बारे में कहा कि प्रदेश के उप मुख्यमंत्री मुकेश अग्निहोत्री को घनागुघाट से जाना सभी ऑपरेटर्स को अखर रहा है,क्या उन्हें हमसे डर था जबकि वो यहां से आते तो हमने उनका रास्ता नही रोकना था,सिर्फ दो मिनट बात कर लेते तो जबको प्रोत्साहन मिलता।उन्होंने कहा कि आने वाले दिनों में हम रास्ता रोको आंदोलन और किसान महापंचायत करने की तैयारी में है।

Leave a Reply

Advertisement