21/05/2024 1:01 am

अर्की आज तक 3
Search
Close this search box.

कण्डला वासियों ने बारिस के कारण बंद हुए गावँ की सड़क से खुद मलबा हटा कर सड़क की दरुस्त।

[adsforwp id="60"]

अर्की आज तक

कुनिहार अक्षरेश शर्मा

कुनिहार विकास सभा के प्रधान धनीराम तंनवर एवं समस्त कार्यकारिणी सदस्य दीप राम ठाकुर, भागमल तंवर, बाबूराम तंवर, जगदीश ठाकुर, बलबीर चौधरी,संजय राघव, ओम प्रकाश, विनोद जोशी, ज्ञान ठाकुर, गोपाल पवंर, हेम सिंह, हरिराम ठाकुर, प्रेम राज चौधरी,संतराम, ओम ठाकुर, जगदीश सिंह, कलीराम चौधरी इत्यादि ने अपने संयुक्त बयान में कहा है कि कुनिहार के कंडला गांव के करीब 16 परिवार जो दलित वर्ग से संबंधित है और वह पिछले दिनों हुई भारी वर्षा के कारण करीब 2 महीने से एक टापू में बंद थे,क्योंकि एक ओर कुनिहार आने के लिए करीब 2 किलोमीटर की सड़क बंद पड़ी थी,तो वन्ही दूसरी तरफ नदी में बहुत ज्यादा पानी था।जिसके कारण जनजीवन एक आपदा से ग्रस्त हो गया था। बच्चे स्कूल आने जाने में भी असमर्थ थे इसके बारे में कुनिहार विकास सभा ने मुख्यमंत्री से लेकर लोक निर्माण मंत्री, विधायक,पार्षद, प्रधान पंचायत,बीडीसी मेंबर, सभी को इस समस्या से उन्हें छुटकारा दिलाने का लिखित आग्रह किया, मगर किसी ने भी आज तक उनकी सुनवाई नही की।जन प्रतिनिधियों के द्वारा इनकी इस गम्भीर समस्या पर कोई भी सुनाई नही की, जोकी बड़े दुख की बात है।प्रदेश सरकार लोक निर्माण ‌मंत्री रोज अखबारों में बड़े-बड़े बयान देते हैं कि ऐसे गांव के रास्ते सडक को जल्द खोला जाएगा लेकिन आज 2 महीने के बाद इन्होंने अपने हजारों रुपए खर्च करके जेसीबी द्वारा सड़क साफ करवाई,ताकि नगदी फसलों पर जीवन यापन करने वाले ग्रामीण अपनी नगदी फसलों को बेच कर आप के परिवार का पालन पोषण कर सके। 2 महीने के बाद इस मार्ग से कार पास हुई। जन प्रतिनिधियों का हाल है जब यह वोट मांगने जाते हैं तब तो हाथ जोड़ते हैं। जब किसी गांव या लोगों को इतनी बड़ी कठिनाई का सामना करना पड़ता है तो कोई भी शुद्ध लेने वाला नहीं है। इन लोगों को अब भविष्य में चुनाव आने पर जब कोई भी वोट मांगने आएगा उसे उनका जवाब उन्हें उस वक्त मिल जाएगा।

Leave a Reply

Advertisement