20/06/2024 1:19 am

अर्की आज तक 3
Search
Close this search box.

मजदूर कर्मचारी एवं किसान विरोधी कदम उठाए जाने के विरोध में लाल झण्डा सीमेंट प्लांट वर्कर यूनियन बागा ने अल्ट्राटेक कंपनी गेट के बाहर शालुघाट में किया प्रदर्शन।

[adsforwp id="60"]

अर्की आजतक

दाड़लाघाट

केंद्रीय ट्रेड यूनियनों एवं राष्ट्रीय फेडरेशन के आह्वान पर मजदूरों व कर्मचारियों के राष्ट्रवादी प्रदर्शनों को सफल बनाने के लिए लाल झण्डा सीमेंट प्लांट वर्कर यूनियन बागा सम्बंधित (सीटू) ने बागा अल्ट्राटेक कंपनी गेट के बाहर शालुघाट में प्रदर्शन किया। केन्द्र में बैठी सरकार ने मजदूर कर्मचारी एवं किसान विरोधी जो कदम उठाए है,उनके खिलाफ यह प्रदर्शन किया गया। आजादी के पहले और बाद में मजदूरो के संघर्षो और कुर्बानियों से बने 44 श्रम कानूनों के मजदूर विरोधी,4 श्रम सहिताओ में बदल दिया गया। वेतन सम्बंधी कोड,औद्योगिक सम्बन्धों पर कोड,समाजिक सुरक्षा पर कोड ल्या उपजीविका,कार्यक्षेत्र सुरक्षा,स्वस्थ्य एवं कामकाजी स्थितियों पर बनाए गए कोड से अब यूनियन बनाना और मुश्किल हो जाएगा। मजदूरों द्वारा अपनी मांगों को मनवाने के लिए हड़ताल पर जाने की एवज में 8 दिन का वेतन कटौती,जुर्माना व वेट तक का प्रावधान है। सरकार ने फिक्स टर्म रोजगार की अधिसूचना जारी कर दी है। इससे मजदूर नियमित रोजगार में वांछित हो जाएगा। काम के घण्टे 8 से 12 घन्टे करने की अधिसूचना पहले ही जारी कर दी गई है। इसी के साथ केन्द्र सरकार बैंड,बीमा,बीएसएनएल,पोस्टल,रक्षा,बिजली,रेलवे,कोयला,सीमेंट,बंदरगाहों,एनटीपीसी,एनएचपीसी,एयरपोर्टों एवं बीएचइएल परिवहन शिक्षा व स्वास्थ्य आदि सार्वजनिक क्षेत्र के उपकरणों का विनिवेश व निजीकरण की योजना बना चुकी है,देश की 10 मुख्य ट्रेड यूनियनों के आह्वान पर इन सबको बचाने के लिए यह प्रर्दशन किया गया। प्रदर्शन को यूनियन अध्यक्ष गणपत राम,सचिव बलबीर,संजय पंवर ने सम्बोधित किया। प्रदर्शन में कार्यकारणी सदस्य लालमन,बालक राम,रूप लाल,पवन कुमार,धनंजय,तसवर सहित अन्य मजदूरों ने भाग लिया।

Leave a Reply