26/05/2024 11:41 pm

अर्की आज तक 3
Search
Close this search box.

खनन बंद नही हुआ तो ग्रामीण आंदोलन का रास्ता अपनाने को मजबूर।

[adsforwp id="60"]
अर्की आज तक(ब्यूरो):-
सूरजपुर पंचायत के रछाकडा गांव में हो रहे अवैध खनन को बंद करवाने के लिए पंचायत के तीन गांव के लोगों ने मांग की है। गांव कोठी,चांगर,मंदोटी गांव के रमेश,कमल,राजेश,कृष्ण चंद,कमल देव,अजय,रोहित सहित अन्य लोगों का कहना है कि गांव रछाकडा में पिछले पांच वर्षों से एक व्यक्ति द्वारा रेत का खनन अवैध रूप से किया जा रहा है,जिसके चलते गांव कोठी,चांगर व मंदोटी के लोगों के लिए बिछाई गई पेयजल योजना जल स्रोत लुप्त होने के कगार पर है। इस संदर्भ में लोगों द्वारा जिला खनन अधिकारी सोलन व उपमंडलाधिकारी अर्की को भी शिकायत की है। इसके साथ ही लगातार हो रही वर्षा से जगह जगह भूस्खलन हो रहा है,जिस कारण पीपलूघाट से दाड़ला संपर्क मार्ग भी बार बार अवरुद्ध हो जाने के चलते इसकी जद में है। सड़क के ऊपर की तरफ हो रहे भारी खनन से मलबा बहकर सड़क में इकट्ठा होने से हादसे का भी अंदेशा बना रहता है। सरकार व प्रशासन से लोगों ने मांग करते हुए कहा कि गांव रछाकडा में हो रहे खनन को तुरंत बंद करवाया जाए ताकि पूरे गांव को भूस्खलन से बचाया जा सके व कोठी चांगर पेयजल योजना को भी सुरक्षित रखा जा सके। गांव कोठी,चांगर व मंदोटी के लोगों ने चेताया है कि खनन बंद नही हुआ तो ग्रामीण आंदोलन का रास्ता अपनाने को मजबूर होंगे।
जिला खनन अधिकारी सोलन दिनेश कुमार का कहना है कि मौके पर खनन अधिकारी की टीम भेज दी है मौके पर ही कार्रवाई कर दी जाएगी।
सहायक अभियंता जल शक्ति विभाग दाडला  कुलदीप गुप्ता का कहना है कि विभाग की स्कीम इस खनन से दूर है,ग्रामीणों की कोई अपनी स्कीम होगी जिसे खनन से नुकसान हो रहा होगा।
उपमंडलाधिकारी अर्की यादविंदर पाल का कहना है कि शिकायत मिली है,पुलिस थाना अर्की को कार्रवाई हेतु भेज दिया है।

Leave a Reply

Advertisement